Faiz Ahmed Faiz
Posted in Public Post Shayar and Poet Shayari

Faiz Ahmed Faiz – Kuch Ishq Kiya Kuch Kaam Kiya

कुछ इश्क़….. किया कुछ काम किया वो लोग बहुत खुशकिस्मत थे जो इश्क़….. को काम समझते थे । या काम से आशिकी करते थे ।…

Continue Reading...
Mehfil shayari
Posted in Public Post Shayari

दिल तो जले मगर ‘राख ‘ न हो – महफ़िल शायरी

    दिल मौजूद न था उन को देखा तो कुछ खोने का एहसास हमे हुआ हाथ सीने पे जो गया तो दिल मौजूद न…

Continue Reading...
Posted in Funny Shayari Public Post Shayari

Funny Shayari – मजाकिया शायरी

Funny Shayari – मजाकिया शायरी तुम्हारी निगाह सुना है तुम्हारी निगाह से लोग कत्ल होते हैं ” मिर्ज़ा “ ज़रा इक नज़र मेरी बीवी को…

Continue Reading...
Rang-AE-Hina
Posted in Public Post Shayari

तेरा रंग-ऐ-हिना – उर्दू हिना शायरी

  Tera Rang-AE-Hina – उर्दू हिना शायरी हाथों की हिना चंद मासूम से पतों का लहू है ‘फाखिर’ जिस को महबूब के हाथों की हिना कहते…

Continue Reading...