Posted in Public Post Shayari

ऐ “हमदम” छोड़ वो तेरे मुक़द्दर में नही

ऐ “हमदम” छोड़ वो तेरे मुक़द्दर में नही  बैठे बैठे किसी की यादों में खो जाना अब ज़रूरी तो नही वो बेवफा है ये बताना…

Continue Reading...
Posted in Public Post Shayari

छड़ दूँ सजना तकना तेरिया राहां नू – पंजाबी शायरी

रुक लेंन दे इन्हा सॉहा नू छड़ दूँ सजना तकना तेरिया राहां नू एक बार रुक लेंन दे इन्हा सॉहा नू punjabi urdu and hindi…

Continue Reading...
Zindagi
Posted in Public Post Shayari

जिंदगी की रंग-ओ-बू – Shayari of Life

    मंजूर कब थी हमको वतन से दूरियां आईना-ऐ-ख़ुलूस-ऐ-वफ़ा चूर हो गए जितने चिराग-ऐ-नूर थे बे नूर हो गए मालूम यह हुआ की वो…

Continue Reading...
Tareekh-e-Wafa
Posted in Public Post Shayari

तारिख-ऐ-वफ़ा – Urdu Shayari

  तारिख -ऐ -वफ़ा मुझे भी याद रखना जब लिखो तारिख -ऐ -वफ़ा के हमने भी लुटाया है मोहब्बत में सकून अपना … हिंदी और…

Continue Reading...