उलटे ही चलते है यह इश्क़ के कारवां

मुहब्बत

 

प्यार , इनकार और इकरार

इनकार वो करते है इकरार के लिए 
नफरत भी करते है तो प्यार के लिए 
उलटे ही चलते है यह इश्क़ के कारवां 
आँखों को बंद  करते है  दीदार के लिए 

हिंदी और उर्दू शायरी – प्यार और मुहब्बत की शायरी – उलटे ही चलते है यह इश्क़ के कारवां

 

Pyar , Inkaar Aur  Ikraar

Inkaar woh karte hai ikraar ke liye,
Nafrat bhi karte hai to pyar ke liye,
Ulte hi chalte hai ye ishq karwan,
Aankhon ko bandh karte hai deedar ke liye

Hindi and urdu shayari – Pyar aur Muhabbat Shayari – Ulte hi chalte hai ye ishq karnewale
Like it
[Total: 436 Average: 3]

मोहब्बत आदत बन गई

एक तमना थी जो अब हसरत बन गई 
कभी दोस्ती थी अब  मोहब्बत  बन गई 
कुछ इस तरह शामिल हुए तुम ज़िंदगी में 
के तुम को सोचते रहना मेरी आदत बन गई 

हिंदी और उर्दू शायरी – प्यार और मुहब्बत की शायरी – तुम को सोचते रहना मेरी आदत बन गई

 

Mohabbat Aaddat Ban Gai

Ek tamana thi jo ab hasrat ban gai,
Kabhi dosti thi ab mohabat ban gai,
Kuch is tarha shamil hue tum zindgi mein,
Ke tum ko sochte rehna meri addat ban gai.

Hindi and urdu shayari – Pyar aur Muhabbat Shayari – tum ko sochte rehna meri addat ban gai
Like it
[Total: 436 Average: 3]

बसा है आँखों में उसका चेहरा

बसा है आँखों में उसका चेहरा इस कदर 
गुलाब से खुसबू  बसती  है जिस तरह 
जान बाकि हो और साँस न चले 
तेरी कमी महसूस होती है कुछ इस तरह

हिंदी और उर्दू शायरी – प्यार और मुहब्बत की शायरी – बसा है आँखों में उसका चेहरा इस कदर

 

Basa Hai Ankhon Mein Uska Chehra

Basa Hai Ankhon mein Uska Chehra Is tarha
Gulab Se Khusbu basti hai Jis tarha
Jaan baqi ho aur sans na chale
Teri hi kami Mehsoos hoti hai Kuch Is tarha

Hindi and urdu shayari – Pyar aur Muhabbat Shayari – Basa Hai ANKHON may Uska Chehra
Like it
[Total: 436 Average: 3]

ख्वाब – फ़राज़

वो मुझसे पूछता किस किस के ख्वाब देखते हो “फ़राज़ ”
बेखबर जानता नहीं के यादें उसकी सोने कहाँ देती हैं 

हिंदी और उर्दू शायरी – प्यार और मुहब्बत की शायरी –  वो मुझसे पूछता

 

Khwab – FARAZ

Wo Mujhse Pochta Ha Kis Kis K Khwab Dekhte Ho “FARAZ”
Be Khabar Janta Nahi K Yaaden Uski Soney Kahan Deti Hain..

Hindi and urdu shayari – Pyar aur Muhabbat Shayari – Wo Mujhse Pochta Ha
Like it
[Total: 436 Average: 3]

1 thought on “उलटे ही चलते है यह इश्क़ के कारवां

आओ बातें करें और हमारे पोस्ट के बारे में हमे बताइये - Please Post the comment