कभी याद आओ तो इस तरहं – Shayari

judai ka sabab

एक ग़ैर के पहलु में हमारा प्यार होगा

दिल डूबता है यह सोच कर की फिर न उनका दीदार होगा
जिस दिन वो रुखसत किसी और के साथ होगा
नींद टूट जाती है अक्सर यह सोचकर .
एक ग़ैर के पहलु में हमारा प्यार होगा .

हिंदी और उर्दू शायरी – दीदार और जुदाई शायरी – एक ग़ैर के पहलु में हमारा प्यार होगा

 

Ek Ghair Ki pehlu mein hamara yaar hoga

dil doobta hai yeah soach kar ki phir na unka didar hoga
jis din wo Rukhsat kisi aur ke sath hoga
neend toot jati aksar yeah Sochkar.
Ek Ghair Ki pehlu mein hamara pyar hoga.

Hindi and urdu shayari – didar Shayari – Ek Ghair Ki pehlu mein hamara yaar hoga
Like it
[Total: 149 Average: 3]

कभी याद आओ तो इस तरहं

कभी याद आओ तो इस तरहं ,
कभी गुनगुनाओ तो इस तरहं ,
मेरा दर्द फिर से ग़ज़ल बने ,
कभी दिल दुखाओ तो इस तरहं ,
मेरी धड़कने भी लरज़ उठें ,
कभी भूल जाओ तो इस तरहं ,
न सिसक सकें न बिलख सकें ,
कभी छोड़ जाओ तो इस तरहं ,
न उजड़ सकें न सँवर सकें ,
कभी याद आओ तो इस तरहं ……..

हिंदी और उर्दू शायरी – याद शायरी – कभी याद आओ तो इस तरहं

 

Kabhi yaad aao to is Tarhan

Kabhi yaad aao to is tarhan,
Kabhi gungunao to is tarhan,
Mera dard phir se ghazal bane,
Kabhi dil Dukhao to is tarhan,
Meri Dharkanen bhi laraz uthen,
Kabhi bhool jao to is tarhan,
Na sisak saken na balak saken,
Kabhi choor jao to is tarhan,
Na ujar saken na sanwar saken,
Kabhi yaad aao to is tarhan

Hindi and urdu shayari – yaad Shayari – Kabhi yaad aao to is tarhan
Like it
[Total: 149 Average: 3]

सबब तो बता जुदाई का

कोई सवाल जो पूछे तो क्या कहूँ उस से
बिछड़ने वाले ! सबब तो बता जुदाई का . .

हिंदी और उर्दू शायरी – जुदाई शायरी – सबब तो बता जुदाई का

 

Sabab to bata judai ka

Koi sawaal jo poochay to kia kahoon us se
Bicherney walay! Sabab to bata judai ka. .

Hindi and urdu shayari – judai Shayari – Sabab to bata judai ka
Like it
[Total: 149 Average: 3]

आओ बातें करें और हमारे पोस्ट के बारे में हमे बताइये - Please Post the comment