Recent Posts

Punjabi Shayari
Posted in Public Post

यह दुनिया है बस मतलब दी

    एक मिलन दी आस इक दुआ की आस विच सारी रात जागे पर कोई तारा अम्बरो टूटिया न चुरा के नज़र लंग गए…

Continue Reading...
Posted in Public Post

कली का फूल बनना और बिखर जाना मुक़दर है

तुम ही को चाहते है तुम ही से प्यार करते है यही बरसो से आदत है और आदत कब बदलती है तुम को जो याद…

Continue Reading...
kafan-shayari
Posted in Public Post

दिल की तलाशियाँ

    ज़हर बड़ा अजीब सा ज़हर था उसकी यादों में सारी उम्र गुज़र गयी मुझे मरते मरते हिंदी और उर्दू शायरी – ज़हर शायरी…

Continue Reading...
pyaar dard
Posted in Public Post Shayari

यह जरूरी तो नहीं – इश्क़-ऐ-गम

यह जरूरी तो नहीं उम्र जलवो में बसर हो यह जरूरी तो नहीं हर शबे-ऐ-गम की सेहर हो यह जरूरी तो नहीं नींद तो दर्द…

Continue Reading...