आज का विचार – ज़िन्दगी का आईना – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां

शुभ और नेक  विचार ज़िन्दगी का आईना होते है , जो इंसान को समय समय पर अपनी जिमेदारियों के  प्रति जागरूकता का एहसास दिलाते है और हमे नेक और सच्चे  रास्ते पर  चलने  की प्रेरणा देते है

 

प्यारे रिश्ते

रिश्ते , दोस्ती और प्यार हर एक के मुक़दर में होते है ।
परन्तु यह रुकते उन्ही के पास है , जो इनकी कदर करते है,इन्हे सम्मान देते है ।
रिश्तों को निभाने के लिए भावनाये और विश्वास होना चाहिए , विवशता नहीं ।
रिश्ते ,प्यार कभी खत्म नहीं होते । बातों से छूटा तो आँखों में रह जाता है ।
आँखों से छूटा तो यादों मैं रह जाता है ।

आज का शुभ विचार – प्यारे रिश्ते – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

ईश्वर का वरदान

आपकी मुस्कराहट आपके चेहरे पर ईश्वर का वरदान है ।
उसको क्रोध करके करके मिटाने की अथवा आंसुओं से धोने की कोशिश न करे ।
जीवन में कभी किसी से अपनी तुलना न करे, आप जैसे है , सर्वश्रेष्ठ है ।
ईश्वर की हर रचना अपने आप में सबसे उत्तम और अद्भुत है ।

आज का शुभ विचार – ईश्वर का वरदान – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

आस्था

एक बार, सभी ग्रामीणों ने बारिश के लिए प्रार्थना करने का फैसला किया।
प्रार्थना के दिन सभी लोग इकट्ठे हुए लेकिन केवल एक लड़का छाता साथ लेकर आया ।

Faith.

Once , all villagers decided to pray for rain.
On the day of prayer all people gathered but only one boy came with umbrella.

विश्वास

जब आप हवा में एक वर्ष के नन्हे बच्चे को हवा में उछालते है ।
वह हँसता है क्योंकि वह जानता है कि उसके पिता उसे पकड़ेंगे ।

Trust

When you toss a one year old boy baby in the air.
he laugh because he knows his father will catch him.

आशा

हर रात हम बिस्तर पर जाते हैं,
लेकिन अगली सुबह हम जागेंगे या नहीं इसका कोई पक्का कोई आश्वासन नहीं है,
लेकिन तब भी हम , सुबह के लिए अलार्म लगाते करते है ।

Hope

Every night we go to bed,
We have no assurance to wake up alive next morning,

But still we set alarm for tomorrow.

आज का शुभ विचार – आशा , विश्वास , आस्था – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां

तक़दीर

फर्क होता है , खुदा और फ़क़ीर में
फर्क होता है , किस्मत और लकीर में
अगर कुछ चाहो और वो न मिले
तो समझ लेना की कुछ और अच्छा
लिखा है तक़दीर में

आज का शुभ विचार – तक़दीर , फर्क होता है , खुदा और फ़क़ीर में – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

सम्मान और सत्कार

अपने से बड़ो और बजुर्गो से बात करने का तरीका आपकी
“तमीज” दर्शाता है .
अपने से छोटों और अपने अनुजों से बात करने का तरीका आपकी
“परवरिश ” दर्शाता है.
अपने शब्दों में ताकत डालें , आवाज में नहीं
क्योंकि बारिश से फूल उगते हैं, बाढ़ से नहीं

आज का शुभ विचार – सम्मान और सत्कार , अपने शब्दों में ताकत डालें , आवाज में नहीं – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

आत्म ज्ञान

दुसरो को समझना बुद्धिमानी है , खुद को समझना असली ज्ञान
दुसरो को काबू करना बल है , और खुद को काबू करना बास्तविक शक्ति है
जिसने संसार को बदलने की कोशिश की वो हार गया
और जिसने खुद को बदल लिया वो जीत गया

आज का शुभ विचार – दुसरो को समझना बुद्धिमानी है , खुद को समझना असली ज्ञान – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

शख्सियत

शख्सियत अच्छी होगी तभी तो दुश्मन बनेगे
वरना बुराई की तरफ देखता ही कौन है
लोग पत्थर भी उसी पेड़ पर मारते है जो फलों से लदा होता है
कभी देखा है किसी को सूखे पेड़ पर पत्थर मारते हुए

आज का शुभ विचार – शख्सियत अच्छी होगी तभी तो दुश्मन बनेगे – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

खुद को बिखरने न दो

इंसान खुद को मजबूत रखे हर हाल में
खुद को बिखरने न दो किसी भी हाल में
दुनिया गिरे हुए मकान की ईंटें तक ले जाते है
अजीब तरह के लोग है इस दुनिया में
अगरबत्ती भगवान के  लिए खरीदते है
और खुशबू अपनी की पसंद की तय करते है

आज का शुभ विचार – खुद को बिखरने न दो किसी भी हाल में – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

हौंसला रख अभी जीत बाकि है

परिन्दें रुक मत तुझमे जान बाकि है
मंज़िल दूर है , उड़ान अभी बाकि है
आज नहीं तो कल मुठ्ठी में होगी दुनिया
लक्ष्य पर अगर तेरा ध्यान बाकि है
यूँ नहीं मिलती मंज़िले , इम्तिहान अभी कई बाकि है
जिंदगी की जंग मैं हौंसला जरूरी है
हौंसला रख अभी जीत के लिए सारा जहाँ बाकि है

आज का शुभ विचार – हौंसला रख अभी जीत के लिए सारा जहाँ बाकि है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

प्रयास छोटा ही सही लगातार करना चाहिए

बारिश की बूंदें  भले ही छोटी हों ,
लेकिन उनका लगातार बरसना बड़ी बड़ी नदियों का बहाव बन जाता है
ऐसे ही हमारे छोटे छोटे प्रयास निश्चित ही जिंदगी में बड़ा परिवर्तन लाने में सक्षम होते है
प्रयास छोटा ही सही लगातार करना चाहिए

आज का शुभ विचार – प्रयास छोटा ही सही लगातार करना चाहिए – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

ख़ुशी और पैसा

खुशियाँ पैसो पर नहीं परिस्थितियों पर निर्भर करती है
एक बच्चा गुब्बरा खरीद कर खुश होता है तो दूसरा उसे बेच कर

आज का शुभ विचार – खुशियाँ पैसो पर नहीं परिस्थितियों पर निर्भर करती है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

आशा की किरण

अगर लोग सिर्फ आपको जरूरत पड़ने पर ही याद करते है ,
तो उन्हें गलत मत समझना क्योंकि आप उनके जीवन की वो आशा की किरण हो
जो सिर्फ अंधेरों में ही दिखाई देती है

आज का शुभ विचार – जीवन की वो आशा की किरण – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

माँ

माँ तो जन्नत का फूल है
प्यार करना उसका उसूल है
दुनिया की मोहब्बत फज़ुल है
माँ की हर दुआ कबूल है
ऐ इंसान माँ को नाराज़ करना तेरी भूल है
माँ के कदमो की मिटटी जन्नत की धुल है

आज का शुभ विचार – माँ तो जन्नत का फूल है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

एकता की ताकत

झाड़ू जब तक एक सूत्र में बँधी होती है , तब तक वह कचरा साफ़ करती है
लेकिन वही झाड़ू जब बिखर जाती है तो खुद कचरा हो जाती है
इसलिए हमेशा सगंठन से बँधे रहे , बिखर कर कचरा न बने

आज का शुभ विचार – एकता की ताकत – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

यह कौन जनता है

किस रस्ते पर जाना है, यह कौन जानता  है
किस मंज़िल को पाना है, यह कौन जानता  है
ज़िन्दगी चार पल की है , हँस के जी लो दोस्तो 
किस रोज़ बिछड़ जाना है, यह कौन जानता  है

आज का शुभ विचार – यह कौन जनता है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

जीवन में अपनापन और मिठास

सुबह की “चाय” और बड़े बजुर्गो की राय समय समय पर लेते रहना चाहिए
पानी के बिना , नदी बेकार है
परिवार के बिना आँगन बेकार है
प्रेम न हो तो , सगे-सम्बंधी बेकार है
पैसा न हो तो , बाजार बेकार है
और जीवन में मिठास न हो तो जीवन बेकार है
इसलिए जीवन में अपनापन और मिठास बेहद जरूरी है

आज का शुभ विचार – जीवन में अपनापन और मिठास – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

इंसान और क्षमता

कोई भी इंसान आपके पास तीन कारणों से आता है
भाव से , आभाव से और प्रभाव से

यदि भाव से आया है तो उसे प्रेम दो

आभाव से आया है तो उसकी सहायता करो

और यदि प्रभाव से आया है
तो परमात्मा का शुक्रिया अदा करो की आपको इतनी क्षमता दी है

आज का शुभ विचार – इंसान और क्षमता – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

मित्रता और समय

दीपक मिट्टी का है  या  चांदी का
यह महत्बपूर्ण नहीं है,
बल्कि वो अँधेरा होने पर प्रकाश कितना देता है , यह महत्बपूर्ण है
उसी तरह मित्र गरीब है या अमीर है
यह महत्बपूर्ण नहीं ,
बल्कि वो आपके कठिन समय में आपका कितना साथ देता है , यह महत्बपूर्ण है

आज का शुभ विचार –मित्रता और समय – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

मय और जिंदगी का खेल

पैर में से काँटा निकल जाए तो चलने में आनन्द आता है
और मन से अहंकार निकल जाए तो जीवन आनन्द मय हो जाता है
चलते हुए पैरों में कितना फर्क है , एक आगे है तो एक पीछे
पर न तो आगे वाले को अभिमान है , न पीछे वाले का अपमान
क्योंकि उनको पता है यह पलभर में बदलने वाला है
और यही समय और जिंदगी का खेल है

आज का शुभ विचार –समय और जिंदगी का खेल है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

उपलब्धि और आलोचना

उपलब्धि और आलोचना एक दूसरे के साथ साथ रहती है
उपलब्धियां जैसे जैसे बढ़ती है बैसे बैसे आपकी आलोचना भी बढ़ती है

आज का शुभ विचार – उपलब्धि और आलोचना एक दूसरे के साथ साथ रहती है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

ख़ुशी का उपहार

ख़ुशी एक ऐसा उपहार है
जो बिना मोल के भी अमनोल है
जो देता है उसका कुछ कम नहीं होता
और पाने वाला निहाल हो जाता है

आज का शुभ विचार – ख़ुशी एक ऐसा उपहार है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां

Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

जिंदगी जीना सीख लो

हर किसी को मंज़िल मिले यह तो मुकद्दर की बात है
मगर इंसान कोशिश भी करे यह तो गलत बात है
जिंदगी तो संघर्ष का दूसरा नाम है
वक़्त को मरहम बनाना सीख लो
हारना तो सब को है एक दिन मौत से
फ़िलहाल जिंदगी जीना सीख लो

आज का शुभ विचार – जिंदगी जीना सीख लो – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

सिर्फ एक ही नाम

ज़िन्दगी में हमारे कारोबार ,लिबास और घर मुख्तलिफ होते है
अमीर , गरीब , छोटा , बड़ा , उस्ताद , शागिर्द , मालिक और नौकर
लेकिन मरने के बाद हम सबका सिर्फ एक ही नाम , लिबास और घर रह जाता है
मय्यत , जनाजा और कफ़न

आज का शुभ विचार  – हम सबका सिर्फ एक ही नाम – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां

Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

गलतियों से सीख

lifeandmistak

इंसान कोशिश यही करे की वो दूसरो की गलतियों से सीख ले  
क्योंकि किसी के पास भी इतना जीवन नहीं है के वो गलतियां कर के सीखे

Thoughts of Life – दूसरो की गलतियों से सीख ले – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां 
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

खेल  रंगों का 

जो दूसरो की सुनता है वो शख्श बिखर जाता है
जो अपने मन की सुनता है वो संवार जाता है
ज़िन्दगी तस्वीर भी है और तक़दीर भी
खेल सिर्फ रंगों का है
जो मनचाहे रंगों से सजे वो तस्वीर
और जो अनजाने रंगों से बने वो तक़दीर

THOUGHTS OF LIFE – खेल सिर्फ रंगों का है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां 

Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

प्यार से जीना सीखो

जीवन में नफरतों में क्या रखा है
प्यार से जीना सीखो
यह दुनिया न तेरा घर है न मेरा
और न किसी और का ठिकाना
भले ही अपने उसूल खुद से ऊपर रखना
पर रिश्तों में जरूर झुकने का दम रखना

THOUGHTS OF LIFE – जीवन में नफरतों में क्या रखा है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां 

Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

इंसान

कोई इंसान बड़ा नहीं है
कोई इंसान छोटा नहीं है
कोई भी इंसान बराबर नहीं है
हर इंसान अपूर्व , निराला और विशिष्ट है

THOUGHTS OF LIFE – हर इंसान अपूर्व , निराला और विशिष्ट है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां 

Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

life-peace

सुकून देने की कोशिश करे

सुकून हासिल करने का सब से आसान तरीका यह है
की इंसान सुकून की तमन्ना छोड़ कर
दूसरो को सुकून देने की कोशिश करे
सुकून देने वाले को ही सुकून मिलता है

THOUGHTS OF LIFE – दूसरो को सुकून देने की कोशिश करे – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]

हालात बदलते ही रहते

जिस तरह मौसम बदलने का एक वक़्त होता है
इसी तरह वक़्त के बदलने का भी एक मौसम होता है
हालात बदलते ही रहते है
हालात के साथ हालत भी बदल जाते है
रात आ जाये तो नींद भी कहीं से आ ही जाती है

THOUGHTS OF LIFE – हालात के साथ हालत भी बदल जाते है – परोपकारी विचारो से सजा गुलिस्तां
Like it
[Total: 35869 Average: 3.2]